Header Ads Widget

Ticker

6/recent/ticker-posts

जिसे हावर्ड विश्वविद्यालय ने भी किया दस बार रिजेक्ट वो आज है पूरे विश्व के सबसे बड़े बिजनेस मैग्नेट में से एक


दोस्तों आज हम एक ऐसे शख्स के बारे में पढ़ेगें जिन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल में दस बार आवेदन किया तथा प्रत्येक बार अस्वीकृत हो गए। लेकिन फिर भी उनका नाम दुनिया के मशहूर अरबपतियों में गिना जाता है। और वह है चीन के दिग्गज कारोबारी जैक मा ।






प्रारंभिक जीवन :- मा का जन्म 10 सितंबर 1964 को चीन के हांग्जो , झेजियांग में हुआ था।




शिक्षा तथा बचपन :-  मा ने हांग्जो इंटरनेशनल होटल में अंग्रेजी बोलने वालों से बातचीत कर के कम आयु में ही अंग्रेजी भाषा का अभ्यास प्रारंभ कर दिया।


वह नौ वर्ष तक अंग्रेजी भाषा का अभ्यास करने के लिए क्षेत्र के पर्यटकों को घुमाने के लिए अपनी साइकिल पर लगभग 70 मील की दूरी तय करते थे।




वहीं उन विदेशियों में से एक ने इनको नया नाम  "जैक"  दिया मूल रूप से जिसका कारण यह था कि  उन्हें इनके  चीनी नाम का उच्चारण करने में कठिनाई आती थी।


अपनी युवावस्था में, जैक मा को कॉलेज की पढ़ाई के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा।


उन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल में दस बार आवेदन किया लेकिन वह हर बार अस्वीकृत हुए ।



जैक मा ने हांग्जो शिक्षक संस्थान जो कि अब वर्तमान में हांग्जो सामान्य विश्वविद्यालय के रूप में जाना जाता है में प्रवेश लिया तथा 1988 में अंग्रेजी में बीए के साथ स्नातक की शिक्षा पूर्ण करी ।    स्नातक होने के बाद, वह हांग्जो डियाज़ी विश्वविद्यालय में अंग्रेजी और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार में व्याख्याता बन गए थे ।




व्यवसायिक जीवन का संघर्ष :- जैक मा ने 30 विभिन्न नौकरियों के लिए आवेदन किया था तथा उनका आवेदन सभी के द्वारा खारिज कर दिया गया।


जैक मा ने पुलिस की  नौकरी भी करनी चाही पर वे वह भी नहीं कर पाए.



फिर एक बार उनके शहर में KFC में नौकरी के लिए रिक्ती जारी हुई। वहा चौबीस लोग गए। उनमे से तेईस को नौकरी पर रख लिया गया। पर वह अकेले थे जिनको नौकरी के लिए स्वीकार नहीं किया गया ।



सन् 1994 में जैक मा ने इंटरनेट के बारे में सुना तथा अपनी पहली कंपनी  हांग्जो हाइबो शुरू करी ।


1995 की शुरुआत में, वे अपने दोस्तों के साथ अमेरिका चले गये, वहाँ पर यह इंटरनेट से और भी अधिक परिचित हुए।



इन्होंने एक दिन सुबह 9:40 पर एक वेबसाइट लॉन्च करी, तथा 12:30 बजे तक कुछ चीनी निवेशकों को इस बारे में जानने की उत्सुकता हुई ।



तब जैक मा को यह एहसास हुआ कि इंटरनेट की असल क्षमता क्या है ।


अप्रैल 1995 में, जैक मा तथा ही यीबिंग जो कि एक कंप्यूटर शिक्षक थे ने चाइना पेज के लिए पहला कार्यालय खोला तथा मा ने फिर अपनी दूसरी कंपनी की शुरूआत करी।



फिर 10 मई 1995 को, उन्होंने संयुक्त राज्य में डोमेन चाईनापेज डाॅट काम पंजीकृत किया। आगामी तीन वर्षों के अंदर ही कंपनी ने 50,00,000 चीनी युआन बनाए थे जो उस वक्त 800,000 अमेरिकी डॉलर के बराबर था।


मा ने अमेरिका में दोस्तों की मदद से चीनी कंपनियों के लिए वेबसाइट बनाना शुरू किया।


1998 से 1999 तक जैक मा ने चाइना इंटरनेशनल इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स सेंटर , विदेश व्यापार एवं आर्थिक सहयोग मंत्रालय के एक विभाग द्वारा स्थापित एक सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी का नेतृत्व किया ।



फिर 1999 में, वह यह सब छोड़कर हांग्जो अपनी टीम के पास वापिस आ गए थे. जिसमें 18 दोस्तों के एक समूह के साथ अपने अपार्टमेंट में चीन स्थित व्यापार-से-व्यापार बाज़ार स्थल पाया।  उन्होंने पाँच लाख 5,00,000 युआन के साथ उद्यम विकास का एक नया दौर प्रारंभ किया।






वर्ष 1999 के अक्टूबर माह में  तथा जनवरी 2000 में, अलीबाबा ने दो बार $ 25 मिलियन विदेशी उद्यम पूंजी निवेश जीता। विश्व व्यापार संगठन डब्ल्यूटीओ की चुनौतियों का समाधान करने हेतु कार्यक्रम में घरेलू ई - कॉमर्स बाजार में सुधार एवं चीनी उद्यमों, विशेष रूप से छोटे एवं मध्यम आकार के उद्यमों एसएमई के लिए एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म में सुधार करने की सकारात्मक आशा थी । 




फिर जैक मा ने वैश्विक ई - कॉमर्स प्रणाली में सुधार करना चाहा तथा वर्ष 2003 में उन्होंने  टाओवाओ मार्केटप्लेस , अलीपे , अली मामा एवं लिंक्स की स्थापना करी ।






वर्ष 2014 के सितम्बर माह में अलीबाबा न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज एक प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश आईपीओ में $ 25 बिलियन से अधिक की वृद्धि कर रहा था ।


 



ऐसे में अमेरिकी वित्तीय इतिहास में सबसे बड़ी प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश, $ 25 बिलियन जुटाने के पश्चात अलीबाबा इस विश्व की सबसे मूल्यवान प्रौद्योगिकी कंपनियों में से एक बन गई। जैक मा ने अलीबाबा ग्रुप के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में कार्य किया जो कि नौ प्रमुख सहायक कंपनियों के साथ एक होल्डिंग कंपनी है : जिनमें शामिल है, टाॅओवाओ मार्केटप्लेस , टी - माल , ई - टाओ, अलीबाबा क्लाउड कम्प्यूटिंग, जुहुआसुआन, सौलह सो अट्ठासी. काम, अलीएक्सप्रेस डाॅट काम और अलीपे.





इसके अलावा नवंबर 2012 में, अलीबाबा के ऑनलाइन लेनदेन की मात्रा एक ट्रिलियन युआन से अधिक थी। वही वर्ष 2016 तक, जैक मा ने बार्डयूएक्स में चाटेआउ द सारस कोट्स डी  बोरग  में चाटेआउ गुएरी और ब्ले में चाटेआऊ कोट्स डी बोर्डो के मालिक हैं।



वर्ष 2017 में जनवरी, जैक मा ने ट्रम्प टॉवर में संयुक्त राज्य के राष्ट्रपति चुनाव डोनाल्ड ट्रम्प के साथ मुलाकात करी थी. जिसमें देश में अलीबाबा के हित के माध्यम से अगले पाँच वर्षों में से 1 मिलियन नौकरी के उद्घाटन की संभावनाओं पर चर्चा करी गई।





जैक मा ने वर्ष 2018 को घोषणा करी की  वह आने वाले वर्ष में अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में पद छोड़ देंगे।  जैक मा ने कहा कि  वह अपने काम के माध्यम से समाज सेवा एवं परोपकार पर ध्यान देना चाहते हैं।






जैक मा को मिलने वाला सम्मान एवं पुरूस्कार :- वर्ष 2004 में, जैक मा को चाइना में सेंट्रल टेलीविजन सी.सी.टी.वी द्वारा "वर्ष के शीर्ष 10 आर्थिक व्यक्तित्व" के रूप में सम्मानित किया गया था ।




फिर  वर्ष 2005 सितम्बर माह में, वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने जैक मा को "यंग ग्लोबल लीडर" के रूप में चुना गया।

फॉर्च्यून ने उन्हें साल 2005 में "एशिया के 25 सबसे शक्तिशाली व्यवसायी" में से एक के रूप में चयनित किया ।

बिजनेसवेक ने उन्हें साल 2007 में "बिजनेसपर्सन ऑफ द ईयर" के रूप में चयनित किया ।

वर्ष 2008 में, बैरॉन ने उन्हें 30 "विश्व के सर्वश्रेष्ठ सीईओ"  में से एक के रूप में स्वीकार किया।





फिर बिजनेस वीक ने उन्हें चीन के सबसे शक्तिशाली लोगों में से एक के रूप में चयनित किया।



फिर फोर्ब्स चीन ने वर्ष 2009 में उन्हें चीन के शीर्ष 10 सबसे सम्मानित उद्यमियों में से एक के रूप में शामिल किया । जैक मा को साल 2009 में सीसीटीवी इकोनॉमिक पर्सन ऑफ द ईयर : बिजनेस लीडर्स ऑफ द डिकेड का अवार्ड मिला।



फिर साल 2010 में, मा को फोर्ब्स एशिया ने आपदा राहत तथा गरीबी में उनके योगदान के लिए एशिया के हीरोज ऑफ परोपकार में से एक के रूप में चुना था ।




फिर साल 2015 में, एशियाई पुरस्कार ने उन्हें एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर पुरस्कार से सम्मानित किया।



वर्ष 2017 में, फॉर्च्यून ने अपने विश्व के 50 महानतम नेताओं की सूची में जैक मा को द्वितीय स्थान पर रखा।



साल 2017 में, केपीएमजी सर्वेक्षण ने वैश्विक तकनीकी नवाचार दूरदर्शी सर्वेक्षण में जैक मा को तीसरा स्थान दिया।



फिर साल अक्टूबर 2017 में, जैक मा को डे ला सालले विश्वविद्यालय मनीला, फिलीपींस से डॉक्टर ऑफ साइंस इन टेक्नोप्रिन्योरशिप की मानद उपाधि दी गई ।



साल 2018 के मई माह में, जैक मा को हांगकांग विश्वविद्यालय द्वारा प्रौद्योगिकी, समाज एवं दुनिया में उनके योगदान को मान्यता देने के लिए डॉक्टर ऑफ सोशल साइंसेज की मानद उपाधि प्रदान करी गई।



साल 2018 मई में, जैक मा ने इज़राइल के तेल अवीव में तेल अवीव विश्वविद्यालय में प्राध्यापक याकोव फ्रेनकेल एवं यारोन ओज़ से सम्मानित डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त करी।



साल 2019 मई में, एमए तथा अन्य 16 प्रभावशाली वैश्विक आंकड़े संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुटेरेस द्वारा स्थायी विकास लक्ष्यों के लिए नए अधिवक्ताओं के रूप में जैक मा नियुक्त किए गए थे।